Tuesday, September 21, 2021
Home Internet http क्या है और http ka full form | What is...

[http vs https] http क्या है और http ka full form | What is http in hindi?

आप जब किसी website में visit करते हो तव आप उस website की url में देखा होगा http या https है। पर क्या आपको पता है कि ये http kya hai? (what is http in hindi) क्यों ये url में होता है। आप यदि नहीं जानते तो इस लेख को पढ़ो। इस लेख से आपको पता चलेगा कि http क्या है और http ka full form क्या है? और ये भी जानेंगे कि http kaise kam karta hai? तो आप यदि internet से जुड़े http के बढ़े में पूरी जानकारी लेना चाहते हो तो पढ़ते रहो। 

आपको इसके बढ़े में जानकारी रखना भी चैहिये क्योंकि internet से जुड़े चीजो के बढ़े में जानकारी रखने से internet use करना बहुत आसान हो जाता है और internet में अपना security को mentain करना आसान होता है। तो चलिए आज के लेख सुरु करते है।

HTTP का full form kya है? – HTTP full form in hindi

सबसे पहले जान लीजिए कि http ka full form क्या है? 

HTTP का full form है 

Hypertext Transfer Protocol

(हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल)

HTTP का मतलब क्या है? – HTTP meaning in hindi

Http ka full form Hypertext Transfer protocol का मरलाब है HTML webpage को एक जहाज से दूसरे जगह भेजने का नियम समूह (set of rules)।

मतलब internet में किसीभी चीज की transfer करने का जो नियम होता है उसका समूह को http कहा जाता है।

HTTP क्या है? – What is http in hindi?

Http kya hai, http ka full form kya hai, http kaise kam karta hai

Http internet की एक protocol है। जो internet में html file transfer करने में मदद करते है। http के वजह से आप किसीभी website को open कर सकते हो और internet से किसी भी data को आप देख सकते हो।

Http एक protocol है मतलब नियम की समूह। जो नियम किसी भी html file को सही से transfer करने के use होता है। http protocol हर एक URL की पहले होता है। इसी protocol के वजह से आप आपकी browser में किसी website को open कर सकते हो। ये नियम या protocol नहीं रहता तो शायद internet में किसी भी website या किसी भी संसाधन को open नहीं कर पाते।

जैसे आपकी school में या आपकी society में कुछ नियम होता है। उस नियम के वजह से ही आपकी society या आपकी school सहिसे चलता है और आप शांति से रह पाते हो। उसी तरह internet में एक computer से दूसरे computer से connection बनाने के लिए कुछ नियम या protocol बनाया गया है। उनमें से http एक है।

जब आप किसी browser में किसी website का नाम type करके search करते हो तब उस website की server से browser की communicate करने के लिए http protocol का use होता है। http protocol के मदद से browser आपकी query के हिसाब से server में request भेजता है और server इसी protocol को use करके request की response करता है और आप internet में किसी भी संसाधन को देख पाते हो। मतलब http client(browser) और server के बीच request और response protocol communication में काम करता है।

http कैसे काम करता है?

आपको पहले बोला कि http client और server के बीच communicate करने की कम करता है। 

आप device में जो browser use कर रहे हो वह है client

जहां पर data store होता है वहां जो computer ये तय करता है कि वह data कहा भेजना है कैसे भेजना है उसी को server कहते है। दुनिया मे server कही भी हो सकता है। 

इसी client और server के बीच communication करने का काम करता है http protocol।

जब आप कोई भी browser में किसीभी website का नाम type करके search करते हो तब सबसे पहले browser उस site की नाम से उस website की server की IP address निकाल त है।

उसके बाद उस IP address में http protocol को use करके server को आपकी quarry के हिसाब से एक request messages भेजता है। 

http protocol से client से server को भेजा गेया request message में तीन अलग अलग section होता है वह है request line, header और body। इस अलग अलग section में अलग अलग data या information होता है।

  • Request line : – इस section में जो जो information होता है वह है Request method मतलब client server को किस लिए request किया वह information। request method भी अलग अलग होता है जैसे Get, Post, Head, Put etc. इसके अलाभा request line में आपकी type किया हुया url होता है और HTTP Version होता है
  • Header : – इसमे client के बढ़े में information होता है। मतलब इस section में client की browser name, browser version, date, इत्यादि information होता है।
  • Body : – ये section option होता है मतलब इस section में कोई निर्दिष्ट information नहीं send किया जाता। इस section से कुछ extra information send किया जाता है। 

http protocol में client(browser) से server को request message को भेजने के बाद connection closed हो जाता है।

Server को client की request मिलने के बाद client की quarry की अनुसार data server की database में ढूंढता है।

Data मिल जाने के बाद server client की भेजा हुया data के अनुसार http protocol को use करके client को response message भेज देता है। 

Server data को data packet के रूपमे client को data भेजता है। data packet मतलब किसीभी data को छोटे छोटे टुकड़ों में बटके भेजता है। और रास्ते मे कोई भी data packet खो जाता है तो फिर http protocol को use करके वह data packet दोबारा भेजने की request करता है server को।

Server से भेजा हुया response message में भी तीन section होता है वह है Response status line, Header, और body।

  • Response status line : – server की response message की ये section में current http protocol version और 3 digit की status code और उस status code के बढ़े में लिखा हुआ एज phrase होता है।
  • Header : – इस section में user की information होता है।
  • Body : – इस section में user की request किया हुया file होता है। मतलब आप browser में जो url डाला था उसकी file होता है। ये file database में नहीं मिलता तो ये section खाली होता है।

server client को response message भेजने के बाद मतलब client की request की अनुसार सारे data भेजने के बाद server client की सारे connection टूट जाता है और आप जिस website की url type कियाथा वह website browser में open हो जाता है।

इसी तरह http किसीभी web page या data को internet में open करने के लिए use होता है।

अन्य पढ़े : –

OTT Platform kya hai?

HTTP error code का मतलब क्या है?

HTTP protocol के माध्यम से जब client server से communicate करता है तब server से request किया गया data database में नहीं मिलता तब screen में एक error आता है और उस error किस तरह की है वह एक 3 संख्या की code से बतादेता है। उस code को error code कहते है। ये error code http protocol के माध्यम से server के द्बारा दिखाया जाता है। जैसे 404 error।

आप सायद ये code को internet में बहुत बार देखा होगा। पर वह सारे code का मतलब न जानने के वजह से आप सही से internet इस्तेमाल नहीं कर पाते हो। 

Error code meaning in hindi

Internet में जो सारे error code दिखाया जाता है उसका एक मतलब होता है। वह क्या और उस code का मतलब क्या है वह बता देता हूं।

1) 400 error meaning in hindi : – 

400 error का मतलब है Bad File Request जब आप गलत url type करते हो मतलब आप url में capital letter use किया है या कोई space use किया है तब ये error code दिखता है।

2) 403 error meaning in hindi : –

403 error का मतलब Forbidden/ access denied। जब आप किसी ऐसे url open करने की कोशिश करते हो जो url open करने की आपको अनुमति नहीं है। तब आपको ये code दिखायेगा।

3) 404 error meaning in hindi : –

404 error का मतलब not found। जब आप ऐसे url को open करते हो जो url की data database में नहीं है या delete करदिया दिया तब ये error को देखने को मिलेगा। 404 error meaning in hindi आपकी request किया हुया data या file database में नहीं मिला।

4) 408 error meaning in hindi : –

408 error का मतलब Request Timeout। मतलब जब server down हो जाता है या server की गति धीमी हो जाती है या file की size बहुत बड़ा है तब ये error code आता है।

5) 500 error meaning in hindi : –

500 error का मतलब है Internal Error। जब server में कुछ दिक्कत आता है तब ये error आता है।

6) 503 error meaning in hindi : –

503 error का मतलब Service Unavailable। जब Internet connection में कुछ problem आता है तब ये error आता है। 

HTTPS का मतलब क्या है? – HTTPS meaning in Hindi।

HTTPS का full form है Hypertext Transfer Protocol Secure। मतलब https protocol एक secure protocol होता है। इस https protocol के जरिये आपकी personal data secure होता है और बाहर से कोई आपकी data चोरी नहीं पाते। https:// secure website की url के पहले होता है।

HTTPS कैसे data secure करता है?

आपको बताया को https protocol एक secure protocol होता है मतलब ये protocol के जरिये data को secure करता है। पर कैसे secure करता है वह बता देता हूं।

HTTPS protocol में एक security layer होता है। जिस layer को SSL(secure sockets layer) कहते है। इसी SSL layer के वजह से client से server तक कि communication में request message और response message को encryption form में मतलब normal language से code language में बदल देता है। 

इसे जब client से server तक request message पहच ने के बीच कई middle man आपकी data चोरी भी करता है तो वह उस encryption message को decryption नहीं कर पायेगा और आपकी data को पढ़ नहीं पायेगा।

इसलिए sensitive information जैसे credit card या debit card की information या कोई और आपकी personal जानकारी secure रहता है।

आजकी समय मे ज्यादा टार website में ये HTTPS होता है। google भी अभी https वाला website को ज्यादा promote करते है।

अभी के समय मे कोई भी browser में https वाला website की address बार मे lock🔒 icon देखने को मिलता है जो ये दर्शाता है कि वह website secure है। और http वाला website की address में warning⚠️  icon देखने को मिलता है जो कि ये दर्शाता है कि वह website unsecure है।

http और https में क्या अंतर है? – http vs https in hindi

अब आपको http और https में क्या अंतर है वह बता देता हूं। जिसे http और https के बढ़े में आपकी idea clear हो जाएगी।

HTTP ProtocolHTTPS Protocol
1) http secure protocol नहीं है। इस protocol से आपकी data चोरी हो सकती है।1) https protocol secure है। इस protocol में आपकी data चोरी नहीं हो सकता।
2) URL की सूरी में http:// होता है।2) URL की सुरु में https:// होता है।
3) http protocol को browser की address बार मे alert का icon⚠️ में दर्शाया जाता है।3) https protocol को browser की address बार मे lock icon🔒 से दर्शाया जाता है।
4) http protocol में data encryption form में transfer नहीं होता।4) https protocol में data encryption form में transfer होता है।
5) http protocol में कोई extra security certificate को जरूरत नहीं।5) https protocol में SSL certificate की जरूरत होती है।
6) http वाला url में click करना ठीक नहीं है।6) https वला url में click कर सकते हो।

क्या http वाला website में visit करना सही है?

आप http और https के बढ़े में जान गए होंगे। आप ये भी जान गए होंगे कि कोनसी website secure है और क्यों सी website unsecure है।

अब आपको बता देता हूं कि http वाला website में visit करना सही होगा कि नहीं। 

आप यदि चाहते हो कि http वाला website में visit करना तो आप कर सकते हो। पर इस http वाला website में कभी भी आपकी personal information जैसे mobile number, email address, debit या credit card details कभी न दे।

आपकी message या email से आया हुया url जहां http है उस तरह की url में कभी click न करे।

अन्य पढ़े : –

at the rate meaning in hindi

QR code kya hai?

Conclusion

आज की इस लेख से आप जान को http kya hai और http ka full form kya hai। मुझे उमीद है कि आपको यहां से http के बढ़े में पूरी जानकारी मिली होगो और http vs https in hindi भी जानने को मिला। ये लेख आपको अच्छा लगे तो जरूर अपने दोस्तों के साथ share कर देना और internet के बढ़े में जानकारी के लिए visit करते रहना।

RELATED ARTICLES

Web Browser क्या है और कैसे काम करता है? | What is Web Browser in Hindi

Web Browser in Hindi : internet तो हम सब लोग use करते हैं। इंटरनेट के जरिए किसी की भी चीज की information...

WAN Full Form, LAN Full Form in Hindi | WAN, LAN, MAN meaning in Hindi

WAN Full Form in Hindi : आप यदि इंटरनेट के बारे में जानकारी रखना बहुत पसंद करते हैं, या आप कई exam...

Password Meaning in hindi | Password का अर्थ क्या है?

Internet में जब आप किसी website में एक account बनाते हो तब वहां पर एक password set करने को बोलता है। पर...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Tiki app kya hai? | Tiki app kis desh ka hai?

आप यदि short video बनना पसंद करते हो या Short Video देखना पसंद करते हो तो आप Tiki app का नाम सुना होगा। आज...

CAPTCHA Meaning in Hindi | CAPTCHA Code क्या है और कैसे Solve करे?

आप यदि captcha meaning in hindi जानना चाहते हो तो आप सही जगह आये हो। इस लेख में आपको captcha या captcha code के...

Wombo app kya hai? Wombo app kaise chalaye aur wombo AI video kaise banaye?

कुछ दिन से internet में एक video बहुत viral हो रहा है। जहां पर किसीकी selfie photo को गाने की lyrics बोलने बाला video...

End To End Encrypted meaning in Hindi | End To End encryption kya hai?

Whatsapp और signal app आपको end to end encrypted security की सुविधा देती है। ये बात तो आप सुना होगा। पर क्या आपको पता है कि...

URL क्या है और URL का full form क्या है? | URL meaning in Hindi

क्या आप जानते हो URL kya hai? और कैसे काम करता है? नहीं तो इस लेख को पढ़ो इस लेख में आपको...