SIM Full Form, SIM का Full form | SIM meaning in Hindi

SIM full form : SIM हर एक मोबाइल में use होता है। बहुत सारे कंपनी SIM बेचता है। पर क्या आप जानते हो की SIM ka Full Form क्या है sim का मतलब क्या है (SIM meaning in Hindi)? आप नहीं जानते तो इस लेख को पढ़ें इस लेख से आपको सिम के बारे में बहुत कुछ जानने को मिलेगा। इसके अलावा SIM में Prepaid SIM और Postpaid SIM का मतलब क्या है वह आपको यहां से जानने को मिलेगा। इसके अलावा SIM कितने प्रकार की होती है इस तरह की बहुत कुछ इंफॉर्मेशन इस लेख से आपको मिलेगा। आप सिम के बारे में पूरी जानकारी लेना चाहते हो तो इस लेख को ध्यान लगाकर अंत तक पढ़ो। तो चलिए शुरू करते हैं।

SIM का Full form क्या है? – SIM Full Form in Hindi.

SIM Full form हैं 

SIM :-

S – Subscriber

I – Identity

M – Module

SIM = Subscriber Identity Module

(सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल)

SIM का मतलब क्या है? – SIM meaning in Hindi.

Sim का full form subscriber identity module इसका Hindi meaning हैं ग्राहक पहचान मॉड्यूल

Subscriber मतलब – ग्राहक

Identity मतलब – पहचान

Module मतलब – मॉड्यूल

अन्य पढ़े : –

SIM card क्या हैं? – What is SIM card in Hindi?

SIM Full Form, SIM ka Full Form, SIM meaning in Hindi

सिम कार्ड एक छोटा सा प्लास्टिक का कार्ड होता है। जिसको मोबाइल के अंदर लगाया जाता है। सिम कार्ड के जरिए हम मोबाइल से बात करते हैं और इंटरनेट चलाते हैं। 

सिम कार्ड में एक छोटा सा चिप लगा होता है उसके अंदर कुछ telecom company की network information, unique Mobile number और कुछ storage होता है।

इसी सिम कार्ड के वजह से हम मोबाइल से बात कर पाते हैं मैसेज कर पाते हैं इंटरनेट चला पाते हैं। 

सिम कार्ड टेलीकॉम ऑपरेटर द्वारा दिया जाता है। अलग-अलग टेलीकॉम ऑपरेटर की अलग-अलग नेटवर्क की सिम होता है। भारत में कुछ टेलीकॉम ऑपरेटर का नाम है jio, Airtel, Vodafone (vi) etc.

SIM का आविष्कार किसने किया?

सिम कार्ड का आविष्कार कोई एक आदमी ने नहीं एक कंपनी ने किया था। सिमकार्ड को 1991 साल में गिज़ेक & देवरिएंट (Giesecke & Devrient) नाम की कंपनी ने अविष्कार किया था ये एक German की कंपनी है। इस company के हेड क्वार्टर था जर्मनी के म्यूनिख शहर में।

पहले सिम कार्ड ATM कार्ड की तरह था। बाद में यह छोटा होकर mini, Micro और nano SIM card में बदल गया। अभी के समय में ज्यादातर फोन में Micro और Nano SIM Card का यूज़ होता है।

Sim card की size क्या होता है?

SIM card की size के हिसाब से SIM को तीन type में भाग किया गेया। वह तीन type का नाम है Standard SIM, Micro SIM, Nano SIM।

Standard SIM की size 25MM Length और Width 15MM होता है।

Micro SIM की size 15MM Length और Width 13MM होता है।

Nano SIM की size 12.3MM Length और Width 8.8MM होता है।

ये size अलग अलग मोबाइल के लिए अलग अलग होता है।

इन size में Nano SIM सबसे छोटा sim होता है।

इन sim के अलावा और एक तरह की SIM है। उस SIM का नाम है ESIM। इसके बारे में जानकारी केलिए Esim क्या है वह article पढ़ सकते हो।

SIM कितने प्रकार की होता है? – Type Of SIM?

Technical side से SIM दो प्रकार की होती है। दो प्रोकार की नाम है GSM और CDMA SIM।

GSM का Full form हैं Global System for Mobile Communications। ये SIM अभी के समय में सभी मोबाइल में उपयोग होता है। इस तरह की SIM का feature हैं की ये सिम एक mobile से दूसरे mobile में बदला जा सकता है और sim की telecom network बदला जा सकता है। मतलब आप जो SIM आपकी Mobile में उपयोग करते हो वह GSM SIM हैं।

CDMA SIM वह सिम होता है जो सिम मोबाइल के अंदर परमानेंटली लगाया जाता है। इस तरह की सिम को आप मोबाइल से कभी खोल नहीं सकते। हॉट इस सिम का जो नेटवर्क ऑपरेटर है उसको कभी भी अब बदल नहीं सकते। 

जैसे मान लीजिए कि आप Reliance Company की एक मोबाइल खरीदा और उसके अंदर Reliance Company की CDMA सिम है, तो उस सिम Reliance Company के ही होगा आप उस सिम में दूसरा कोई नेटवर्क नहीं यूज कर सकते। और उस सिम को आप उस मोबाइल के अलावा दूसरे मोबाइल में खोलकर आप इस्तेमाल नहीं कर पाओगे। 

यही दो डिफरेंस है GSM और CDMA सिम के अंदर।

Prepaid SIM और Postpaid SIM क्या है?

आप जब मोबाइल में रिचार्ज करते हो तब आप दो ऑप्शन देखा होगा। एक है Prepaid और Postpaid पर क्या आपको पता है कि Prepaid और Postpaid SIM क्या होता है आर इन दोनों में क्या फर्क है तो चलिए आपको बता देते हैं।

Prepaid sim उस सिम को कहते हैं जिस सिम में आप पहले रिचार्ज करते हो उसके बाद उस सिम का सर्विस लेते हो। जैसे आपके पास जो सिम है उससे मैं आप पहले रिचार्ज करोगे उसके बाद उस सिम को यूज करके आप मोबाइल में बात कर पाओगे आप इंटरनेट यूज कर पाओगे इस तरह की सिम को प्रीपेड सिम कहते हैं। 

Prepaid शब्दों में Pre का मतलब है पहले और Paid का मतलब है भुगतान मतलब Prepaid का मतलब है पहले भुगतान। 

अभी के टाइम ज्यादातर लोग भी पेट सिम use करते हैं आप भी करते होंगे।

आप बात करते हैं Postpaid के बारे में। Postpaid SIM उस सिम को कहते हैं जिस सिम की साड़ी आप पहले यूज करते हो उसके बाद आप पैसे रहते हैं। मतलब जिस सिम को यूज करके पहले आप बात किया इंटरनेट यूज किया उसके बाद कितना बात किया और कितना इंटरनेट यूज किया उसके हिसाब से जो आप पैसे भुगतान करते हो उसी सिम को पोस्टपेड सिम कहते हैं। 

जैसे एक उदाहरण देकर आपको बता देता हूं जैसे आपके घर में इलेक्ट्रिसिटी है। आप क्या करते हो आप महीने भर इलेक्ट्रिसिटी को यूज करते हो उसके बाद कितना इलेक्ट्रिसिटी आप यूज़ किया उसके हिसाब से आप इलेक्ट्रिसिटी ऑफिस को पैसे देते हो इसी तरीके को पोस्टपेड कहते हैं।

Postpaid शब्दों में Post का हिंदी मतलब है बाद में और Paid का मतलब है भुगतान। मतलब Postpaid का हिंदी मतलब है बाद में भुगतान। मतलब किसी सर्विस को यूज करने के बाद उसकी कितना यूज किया उसके हिसाब से भुगतान को Postpaid service कह जाता है।

SIM Card कैसे खरीदे?

आपके पास कोई सिम कार्ड नहीं है और आप आपकी मोबाइल के लिए एक सिम कार्ड खरीदना चाहते हो तो आप जिस कंपनी की सिम कार्ड खरीदना चाहते हो उस कंपनी की रिटेलर के पास जाकर आप सिम कार्ड खरीद सकते हो। या फिर आप उस कंपनी की वेबसाइट में जाकर ऑनलाइन भी सिम कार्ड ऑर्डर कर सकते हो।

आपकी आसपास की सिम का डिटेल रिटेलर से सिम कार्ड लेने से आपकी सिम जल्दी चालू हो जाने की सुविधा मिलती है।

सिम कार्ड लेने के लिए आपके पास एक आधार कार्ड होना जरूरी है और आपकी उम्र 18 साल से ज्यादा होना पड़ेगा।

अन्य पढ़े : –

Conclusion

आज की इस लेख से आपने जाना SIM ka Full form kya hai (SIM Full Form) आर SIM ka matlab kya hai? (SIM meaning in Hindi). उम्मीद है कि आप को इस लेख से SIM के बारे में आपको पूरी जानकारी मिल चुकी है। आपके मन में जितने सवाल थे वह सारे सवाल का जवाब इस लेख से आपको मिल चुके होंगे। ये लेख आपको अच्छा लगे तो जरूर अपने दोस्तों के साथ भी share कर देना जसे कि उन्हें भी सिम के बारे में पूरी जानकारी मिल पाए और नया नया जानकारी के लिए इस Website में Visit करते रहना।

Sharing is Caring

Leave a Comment