Universe In Hindi | Universe क्या है और कैसे जन्म हुआ?

Hello friends, आज की लेख आपके लिए बहुत मजेदार होने वाला है। क्युकी आज की इस लेख से आप जानेंगे ब्रह्मांड (Universe in Hindi) के बारे में। आप यदि Universe के जानकारी लेने में बहुत उत्सुक हो और इस ब्रम्हांड का जन्म कैसे हुए ये यदि आप जानना चाहते हो तो इस लेख को अंत तक पढ़ो। इस लेख में आपको universe के बढ़े में बहुत कुछ जानकारी मिलेगा। आप यदि कोई exam के लिए तैयार हो रहे हो तो ये लेख आपको बहुत मदद करेगा। तो चलिए आज की लेख को सुरु करते है।

Universe का मतलब क्या है? – Universe Meaning in Hindi

Universe का hindi meaning है ब्रह्मांड या सम्पूर्ण सृष्टि। एक ब्रह्मांड ग्रह, तारे, नखत्र, galax और भी अंतरिक्ष में स्थित हर चीज को एक साथ Universe या ब्रह्मांड कहा जाता है।

ब्रह्मांड क्या है? – Universe in Hindi

Universe in Hindi, Shape of Universe in Hindi

हम पृथ्वी में रहते है। पर हमारे दिमाग में सबल आता है की ये प्रथ्वी कहां रहता है। तो आपको बता दू की प्रथ्वी ब्रम्हांड का एक बहुत छोटा अंश है। पर आपके दिमाग में से सबल है की ये ब्रामंडा क्या है? तो आपको बता देता हु।

जो चीज का अस्थित है जैसे भौतिक पदार्थ, energy, गृह, तारे, galaxy, black hole, asteroid और भी जो चीज अंतरिक्ष में स्थित है वह सारे चीज की सम्मिलित रूप ब्रामंडा या Universe कहां जाता है।

Universe अनंत है। ब्रम्हांड बहुत बड़ा है। ब्रम्हांड का किनारा अभी तक scientist ने नहीं लगा पाया और ये माना जा रहा है की universe फलता जा रहा है। universe लाखो करोड़ की तारो और galaxy से मिलकर बना है।

जैसे हमारे सूरज है जिसके चारो तरफ कुछ ग्रह घूम रहा है इसे solar system कहा जाता है। सूरज जैसे और भी तारे है, इन सारे तारे मिलकर एक आकाशगंगा बनता है। बहुत सारे आकाशगंगा मिलकर एक local group of Galaxy बनाते है। बहुत सारे local group of Galaxy मिलकर एक Galaxy cluster बनाते है और बहुत सारे Galaxy cluster मिलकर एक universe बनते है। ये universe या ब्रह्मांड इतना बढ़ा है की अभी तक ब्रह्मांड का किनारा कहा है ये किसीको नहीं मालूम।

Universe एक रहस्य है, जिसके बारे में अभी भी मनुष्य खोज कर रहा है और बहुत सारे नया नया चीज के बारे में जानने को मिल रहा है। ब्रह्मांड के अध्ययन को Cosmology कहां जाता है।

ब्रह्मांड में जहां खाली जगह होता है उसे अंतरिक्ष कहा जाता है। जैसे प्रथ्वी और चांद के बीच खाली जगह होता है। इसे अंतरिक्ष कहते है।

ब्रह्मांड का जन्म कैसे हुआ?

ब्रह्मांड की उत्पत्ति को लेकर बहुत सारे सिद्धांत है। उनमें से ‘Big Bang theory’ सबसे popular और सबसे ज्यादा मान्य theory है। Big bang Theory को विज्ञानी जार्ज लेमैत्रे ने 1927 में दिया था। 

Big bang Theory के मुताबिक Universe का जन्म एक छोटे से बिंदु से हुआ।

आज से लगभग 13.6 अरब साल पहले की बात है। जब ब्रह्मांड का उत्पत्ति नहीं हुया था तब कुछ भी नहीं था। न कोई ग्रह, न कोई तारे कुछ भी नहीं थे। एक छोटे से बिंदु थे जो परमाणु से ज्यादा छोटा था। उसमे अनंत ऊर्जा समाहित थे। वह बिंदु बहुत गरम था। एक समय उस बिंदु में एक बहुत बड़ा धमाका हुआ। उस धमाके से Universe का जन्म हुआ। 

उस बिंदु की विस्फोट होने के बाद चारो तरफ वह बिंदु फलने लगा। उस बिंदु की विस्फोट होने के बाद बिंदु में समाहित ऊर्जा और matter चारो तरफ फेल गया। ये इतने तेजी से हुआ की हमारे समय भी छोटे पर जाते है। ये फैलाव अभी भी बना रहा। अभी भी ब्रह्मांड का space फैल रहा है प्रोकाश के भी तेज गति से।

इस theory के मुताबिक उस बिंदु का जब विस्फोट हुया तब उस बिंदु की ऊर्जा प्रोकास के गति से भी ज्यादा गति में फैला था। मतलब 1 second की 100 भागों में से एक भाग समय में इतना फैला था की आब भी उतना नहीं फैला।

Big Bang के बाद चारो तरफ ऊर्जा से भर गया। उसके बाद gravity का जन्म हुया। Gravity के जन्म के बाद ब्रह्मांड का तापमान तेजी से काम होने लगा।

Gravity के जन्म के बाद सबसे पहले Big bang के 1 सेकंड बाद प्रोटोन और न्यूट्रोन जैसे कण अस्तित्व में आये। Big B समय light का भी जन्म हुया था पर वह light एक जगह स्थिर था। फिर 400 मिलियन साल बाद जब electron और proton आपस में मिले तब light ने गति पकड़ी। तब से आज तक light आगे बढ़ रहा है।

फिर धीरे धीरे पदार्थ का जन्म हुए उसके बाद तारे, galaxy, ग्रोह, उपग्रह का जन्म हुया। इसी तरह Universe का जन्म हुया।

ब्रह्मांड किस चीज से बना है? – Elements of Universe in Hindi

Universe या ब्रह्मांड के बढ़े में जानने के समय आपके दिमाग में से सबल आया होगा की ब्रह्मांड किस पदार्थ से बना है। तो आपको बता देता हु की ब्रह्मांड तीन चीज से बना है। एक Matter, Dark Matter और Dark Energy ये तीन चीज से बना है। 

पहले scientist को लगता था की जो चीज ब्रह्मांड में दिखाई देती देती है इसके अलावा ब्रह्मांड खाली है और ये भी लगता था ब्रह्मांड और विस्तार नहीं कर रहा। Gravity के वजह से ब्रह्मांड धीरे धीरे छोटा हो रहा है। उसके बाद बहुत research करके के बाद ये पता लगा की ब्रह्मांड खाली नहीं। ब्रह्मांड तीन चीज से बना है। वह तीन चीज है Matter, Dark Matter और Dark Energy। पूरी ब्रह्मांड में से 5% Normal Matter है बाकी 95% Dark Matter और Dark Energy है। 95% Dark Matter और Dark Energy में से 27% Dark Matter है और 68% Dark Energy है।

चलिए आपको बता देते है की ये Matter, Dark Matter और Dark Energy क्या है? 

पदार्थ क्या है? – What is Matter in Hindi?

Universe में जो भी चीज देखा जाता है वह सब कुछ Matter है। जैसे प्रथ्वी, तारे, ग्रह, galaxy, dust, सब कुछ जो भी अंतरिक्ष में दिखने को मिलता है वह सब कुछ पदार्थ से बना है।

Ordinary matter electron, proton और Neutron कना से बना है। पदार्थ गुरुत्व आकर्षण द्बारा एक दूसरे के साथ बांधे हुए होते है। 

पूरी ब्रह्मांड में सिर्फ 5% ordinary Matter है।

Dark Matter क्या है? – Dark Matter in Hindi

ब्रह्मांड में Galaxy का समूह को Galaxy cluster कहा जाता है। Galaxy Cluster में galaxy galaxy Cluster की केंद्र को चक्कर लगाता है।

Fritz Zwicky नाम से एक scientist साल 1930 में galaxy cluster की गति पर अभ्यास कर रहे थे। तब उन्होंने देखा की जो गेलेक्सि समूह के केंद्र में स्थित galaxy की चक्कर लगाने की गति और गेलेक्सि समूह के बाहर के तरफ galaxy की चाकर लगाने की गति समान था। पर ऐसा नहीं होना चाहिए। ऐसा होने पर बाहर की galaxy ज्यादा गति के वजह से गैलेक्सी समूह से बाहर निकल जाना चाहिए था। पर ऐसा नहीं हुआ।

पर ये कैसे हो सकता है इसका कोई उत्तर नहीं मिल रहा था। तब Fritz Zwicky को लगा की कोई ऐसा पदार्थ है जो इन galaxy को गैलेक्सी cluster से बंधे हुए है। पर इस पदार्थ को दिखा नहीं जाता। इसलिए इसका नाम Dark Matter रख दिया गया।

Dark matter ब्रह्मांड की एक रहस्य है। इसके बढ़े में मनुष्य को ज्यादा जानकारी नहीं है। Dark matter क्या है और किस चीज से बना है वह अभी तक किसीको नहीं पता।

Dark matter normal Matter से अलग है। Dark matter normal Matter से कोईभी reaction नहीं करता। Dark Matter light को भी reflect नहीं करता। इस लिए dark matter को नहीं देखा जा सकता और dark matter को छुया भी नहीं जा सकता। 

Dark Matter ब्रह्मांड में 27% है। ये हर एक galaxy में है और ये galaxy को ब्रह्मांड में बंधे हुए रखने में मदद करते है। 

बहुत scientist को लगता है की dark matter हर जगह माजुत है। सिर्फ अंतरिक्ष में नहीं तुमरे हमारे आसपास भी dark matter है। Dark matter को छूया नहीं जा सकता या dark matter normal Matter से reaction नहीं करता इसलिए हमे पता नहीं चलता।

Dark Energy क्या है?

वैज्ञानिको ने 1998 में एक supernova की परीक्षण के समय देखा की supernova को जितने दूर तक फलना चाहिए उससे ज्यादा फैल गया।

क्युकी तब वैज्ञानिकका ये मानना था की गुरुत्वाकर्षण के कारण ब्रह्मांड धीरे धीरे छोटा हो रहा है। पर इस सुपरनोवा की परीक्षण के बाद वैज्ञानिको को ये पता चला की ब्रह्मांड में गुरुत्वाकर्षण बल के अलावा और एक बाल है जो ब्रह्मांड को फैलने में मदद कर रहा है। 

इसके बाद से वैज्ञानिको ये पता चला की ब्रह्मांड अभी भी फेल रहा है और पहले से ज्यादा तेज से फेल रहा है। ये बल ब्रह्मांड में 68% फैला हुए है।

पर वैज्ञानिको को इस बल के बढ़े में ज्यादा पता नहीं है। सिर्फ ये पता है की ये बल गुरुत्वाकर्षण से उल्टा काम करता है। मतलब गुरुत्वाकर्षण जैसे कोईभी चीज को अपने केंद्र के तरफ खींचता है उनकी उल्टा ये अनजान बल कोई भी चीज को आपने केंद्र से दूर भेजता है।

इस बल के बढ़े में ज्यादा नहीं पता इसलिए इस बल का नाम Dark Energy कहां जाता है।

ब्रह्मांड का आकार क्या है? – Shape of The Universe in Hindi?

ब्रह्मांड के बढ़े में जानने के समय हमारे दिमाग में एक सबल आता है। वह सबल है universe का shape कैसा है? क्या प्रथ्वी की तरह universe गोल है? तो इसके जवाब में आपको बता दू की Universe इतना बढ़ा है की इसका आकार जानना मुश्किल नहीं नामुमकिन है। 

वैज्ञानिक ब्रह्मांड की आकार के बढ़े बढ़े में जानने के लिए research कर रहा है। पर अभी तक ब्रह्मांड का shape क्या है इसका सही जवाब अभी तक नहीं मिला।

वैज्ञानिको ने मिलकर ब्रह्मांड का आकार को मापने के लिए तीन आकार लिया है। एक है समतल(Flat), गोल (Sphere), पहाड में से निकलता रास्ता जैसा और एक है गोल। 

वैज्ञानिको ब्रह्मांड का आकार को जानने के लिए कुछ तरीका को अपनाया। इस सारे प्रक्रिया को उपयोग कर ब्रह्मांड का आकार को जानने की कोशिश किया जा रहा है।

Einstein की General Relativity Theory के अनुसार ब्रह्मांड की आकार द्रव्यमान के ऊपर निर्भर करता है। इसी theory को अनुसार करके वैज्ञानिक ने ब्रह्मांड की घनत्व को माप रहा है। 

वैज्ञानिको ने ब्रह्मांड की सामान्य घनत्व को 1 मनके ब्रह्मांड की घनत्व को नाप रहा है और इस घनत्व के हिसाब से ब्रह्मांड का आकार निर्धारण करने की कोशिश की जा रही है।

Universe in Hindi, Shape of Universe in Hindi

यदि ब्रह्मांड का वास्तविक घनत्व 1 होता है तो माना जायेगा को की ब्रह्मांड zero curvature है मतलब समतल (flat) है और ब्रह्मांड हर तरफ फैलता ही जा रहा है।

यदि ब्रह्मांड का वास्तविक घनत्व 1 से कम होता है तो ब्रह्मांड का आकार negative curvature होगा मतलब घोड़ा का जीन (saddle) जैसे खुला हुआ आकार की होगा। Universe का इस आकार में universe अनंत काल तक फैलते हो जाएगा।

यदि ब्रह्मांड का वास्तविक घनत्व 1 से ज्यादा होगा तो ब्रह्मांड का आकार positive curvature होगा मतलब बंद गोल होगा और ब्रह्मांड का फैलना एक दिन रुख जायेगा और फिर सिकुरता रहेगा।

बिज्ञानिको ने पाया की ब्रह्मांड का वास्तविक घनत्व 1 है। मतलब ब्रह्मांड का आकार Flat मतलब समतल है। 

और भी अलग अलग तरीका को उपयोग करके ब्रह्मांड का आकार Flat ही पाया है। पर ये आकार अभी भी universally माना नहीं गया। अभी भी ब्रह्मांड की आकार के बढ़े में जानने के लिए research चल रहा है।

ब्रह्मांड कितना बड़ा है? – How Big is The Universe in Hindi?

ब्रह्मांड कितना बड़ा है इसका जबाव अभी तक नहीं है। ब्रह्मांड को अनंत माना गया। पर बिज्ञानिक को ब्रह्मांड के जितने दूर तक का पता है उस ब्रह्मांड को observable universe कहा जाता है। बिज्ञानिको ने इस observable universe को 92 billion प्रकाश वर्ष बड़ा माना गया क्युकी ब्रह्मांड की इतनी दूरी तक ही मनुष्य ने देख पाया। 

92 billion प्रकाश वर्ष बाद universe कितना दूर तक फैला हुए है या इसका कोई अंत भी है ये अभी भी बिज्ञानीको नहीं पता। 

Note : – प्रकाश वर्ष क्या है? – एक साल में प्रकाश कितनी दूरी तय करता है उसी दूरी को प्रकाश वर्ष कहा जाता है। प्रकाश की गति 300000 KM/SEC। एक प्रकाश वर्ष मतलब 3,00,000×60×60×24×356=94,60,80, 00,00,000 KM ये है एक प्रकाश वर्ष दूरी का मतलब।

ब्रह्माण्ड कितना पुराना है?

हमारा ब्रह्माण्ड 13.6 अरब वर्ष पूराना है। क्युकी निज्ञानिको इतना पुरानी ही प्रकाश को निरीक्षण किया है।

ब्रह्माण्ड का अंत कैसे होगा? – How will the universe end in hindi?

बिज्ञानोको ने जैसे ब्रह्मांड कैसे बने इस सबल का जवाब ढूंढ रहा है उस तरह ब्रह्मांड का कैसे अंत होगा इसका भी अंदाजा लगा रहे है। 

ब्रह्मांड का विनाश कैसे हो सकता है इसके बढ़े में बहुत सारे संभावना सामने आया है उनमें से कुछ जनप्रिय संभावना है 1.महा संकुचन (Big crunch)

2. महा चिर (Big Rip)

3. महा शीतलन

1.महा संकुचन (Big crunch)

इस संभावना में बता गया की ब्रह्मांड (Universe) का एक छोटे से बिंदु से हुए था। उसके बाद ब्रह्मांड का बिस्तर हो रहा है। पर एक दिन ये बिस्तर रुख जायेगा और गुरुत्वाकर्षण के वजह से ब्रह्मांड फिर से संकुचित होके फिर एक बिंदु में समा जायेगा। तब ब्रह्मांड खतम हो जायेगा और फिर उस बिंदु में दमका होके एक नया ब्रह्मांड का जन्म होगा।

2. महा चिर (Big Rip)

इस संभावना में बताया गया की ब्रह्मांड dark Energy के वजह से फेल रहा है और ब्रह्मांड में स्थित normal Matter गुरुत्वाकर्षण बल के वजह से एक दूसरे से बंधा हुए है। पर एक दिन ऐसा आयेगा की dark Energy का बल गुरुत्वाकर्षण बल से ज्यादा होगा और ब्रह्मांड बहुत तेजी से फैलता जायेगा। गुरुत्वाकर्षण बल कमजोर हो जाएगा इसलिए ब्रह्मांड में स्थित ग्रह तारे सब एक दूसरे से दूर हो जाएगा और महा अंतरिक्ष में को जायेगा। इसी तरह ब्रह्मांड का अंत होगा।

3. महा शीतलन

इस संभावना में बताहा गया है की ब्रह्मांड की फैलने की वजह से तारे एक दूसरे से दूर जो जायेगा और ग्रह भी एक दूसरे से दूर हो जाएगा और ब्रह्मांड में स्थित सब कुछ शीतल हो जाएगा। इसी तरह ब्रह्मांड का अंत होगा।

इसके अलावा भी बहुत सारे संभावना है। आगे भी नया नया चीज की अबिस्कार के साथ नया नया संभाना भी सामने आयेगा।

क्या ब्रह्मांड में alien है?

ब्रह्मांड में अन्य किसिभि ग्रह में स्थित कोई भी प्रजाति की जीव को alien का नाम दिया गया है। 

ब्रह्मांड में लाखो और करोड़ में ग्रह और नक्षत्र है। इनमे कोई कोई एक ग्रह में हमारे जैसे कोई न कोई जीव जरूर होना चाहिए। क्युकी इस ब्रह्मांड में प्रथ्वी में हम रहते है उसी तरह अन्य कोई ग्रह में अन्य कोई जीव होना चाहिए। एक तरह देखा जाए तो हम भी एक तरह की alien है अन्य ग्रह की जीव के लिए।

Alien ऐसा नहीं की मनुष्य की तरह ही होगा। हो सकता है अन्य कोई आकार का होगा। हम जैसे Oxigen और पानी पीके जीवित रहते है हो सकता है Alien अन्य किसी तरह जीवित हो सकता है। 

हो सकता है की alien हमारे से बहुत ज्यादा उन्नत हो सकता है या हमारे से बहुत ज्यादा अविकसित हो सकता है।

पर अभी तक मनुष्य को alien होने का कोई भी प्रमाण अभी तक नहीं मिला। पर बिज्ञानिको का मानना है की ब्रह्मांड में कही न कही Alien मजूत है इसलिए alien के बढ़े छानबीन अभी भी जारी है।

10+ Facts of Universe in Hindi

1)  ब्रह्मांड में अंतरिक्ष में कोई भी वायुमंडल नहीं है इसलिए अंतरिक्ष में आवाज Travel नहीं कर पाते। इसलिए Space में हम बात नहीं कर सकते। अंतरिक्ष में बात करने के लिए radio तरंग का उपयोग किया जाता है। 

2) ब्रह्मांड में कितने तारे है इसका जवाब अभी तक नहीं पता। पर अंदाजा लगाया जा रहा है की हमारी पृथ्वी पर जीतने रेत के कण होते है उससे भी ज्यादा universe में star है।

3) ब्रह्मांड में बहुत सारे Galaxy है। इनमे से हम जो आकाशगंगा (Galaxy) में रहते है उसका नाम है Milky way galaxy

4) ब्रह्मांड फेल रहा है इसका वजह से ग्रह और नक्षत्र भी दूर जा सारा है। हमारे प्रथ्वी से चंद्र भी दूर जा रहा है। हर साल प्रथ्वी से चंद्र 3.8 CM दूर जा रहा है।

5) हमारे solar System का 99% भाग सूरज अकेले घेरता है।

6) ब्रह्मांड में हर दिन 275 Million नया सितारा पैदा होता है।

7) ब्रह्मांड में हर चीज घूमता है। जैसे प्रथ्वी खुद घूमता है, प्रथ्वी सूरज को चक्कर लगाता है। सूरज milky Way galaxy का केंद्र को चक्कर लगाता है। Milky Way galaxy भी universe में घूमता है। Milky Way galaxy 250 KM/SEC रफ्तार से घूमता है।

8) ब्रह्मांड का हर जगह का तापमान एक जैसा है।

9) ब्रह्मांड में एक हीरे का बना हुआ ग्रह है। इस ग्रह का नाम है 55 Cancri E।

10) अंतरिक्ष से सूरज को देखने पर सूरज का रंग सफेद देखने को मिलेगा।

11) आज से लगभग 400 साल पहले दूरबीन की सहायता से अंतरिक्ष को पहली बार देखा था गलीलियो (Galileo)।

12) ब्रह्मांड में हर एक galaxy के केंद्र में एक Black Hole होता है। हमारे milky Way galaxy की केंद्र में भी एक black Hole है।

13) अंतरिक्ष का research करने के लिए 25 December 2021 में अभी तक की सबसे शक्तिशाली Telescop James Webb Telescope को भेजा गया।

ब्रह्मांड से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल – Important questions in Hindi

Q) ब्रह्मांड के अध्ययन को क्या कहा जाता है?

Ans) कॉस्मोलॉजी (Cosmology)

Q) ब्रह्मांड का age कितना है?

Ans) ब्रह्मांड का age लगभग 13.77 अरब वर्ष।

Q) ब्रह्माण्ड का जन्म कैसे हुआ?

Ans) Big Bang Theory के अनुसार ब्रह्मांड का जन्म एक छोटे से गोल चीज का विस्फोट से हुआ।

Q) बिग बैंग सिद्धांत किसने और कब दिया?

Ans) बिग बैंग सिद्धांत जार्ज लेमैत्रे ने 1927 में दिया था।

Q) ब्रह्मांड किस चीज से बना है?

Ans) ब्रह्मांड Ordinary Matter, Dark Matter और Dark Energy से बना है।

Q) Dark Matter का खोज कौन और कब किया था?

Ans) Fritz Zwicky नाम से एक scientist साल 1930 में Dark matter का खोज किया था।

Q) Dark Energy का खोज कब हुआ था?

Ans) 1998 में Dark Energy का आविष्कार हुआ था।

Q) Black Hole की जानकारी किसने दी थी?

Ans) एस. चंद्रशेकोर (Subrahmanyan Chandrasekhar) ने सबसे पहले Black Hole की जानकारी दी थी।

Q) किसीभी सितारा का रंग से क्या पता चलता है?

Ans) सितारा का रंग से सितारा का ताप कितना है वह पता चलता है।

Q) ‘ सुपरनोवा’ क्या है?

Ans) तारे का विस्फोट होना को सुपरनोवा (supernova) कहां जाता है।

Lesson

उम्मीद है आप इस लेख को ध्यान लगा कर पढ़ा है और आपको universe के बढ़े में जानकारी मिली है। आपको ब्रह्मांड से जुड़े कुछ सवाल करूंगा उसका जवाब आपको comment करके देना है। सवाल का जवाब आपको खुद से लिखना है। इसे आप ब्रह्मांड के बढ़े में जो कुछ पढ़ा है वह अच्छे ये याद हो जाएगा और बाद में बहुत कम आयेगा। उम्मीद है आप सबल का जवाब दोगे और cheating नहीं करोगे।

Question : –

Q.1) Dark Matter क्या है?

Q.2) ब्रह्मांड का अंत कैसे होगा?

Q.3) ब्रह्मांड कितना बड़ा है?

Q.4) एक प्रोकाशबर्ष का मतलब क्या है?

अन्य लेख पढ़ो :-

Conclusion

आज की इस लेख से आपको जानने को मिला की ब्रह्मांड क्या है? (Universe in Hindi), ब्रह्मांड का कैसे जन्म हुआ और भी अच्छे अच्छे जानकारी। उम्मीद है की आपको इस लेख से universe के बढ़े में पूरी जानकारी मिला है। आपके मन में ऐसा कोई सबल है जिसका जवाब आपको इस लेख में नहीं मिला तो आप comment करके जरूर पूछ। मैं आपको उस सबल की जवाब देने की कोशिश करूंगा। आप इस लेख से संतुष्ट हुआ तो जरूर अपने दोस्तो के साथ share कर देना और इस तरह को और भी अन्य चीज के बढ़े में जानकारी के लिए हमारे Telegram channel में और Facebook page में join हो जाना।

Sharing is Caring

Leave a Comment